Hindi real life love story

 

लडके का प्यार  || Real life school love story in Hindi

कहते हे जिंदगी में लोगो का होना जरुरी है. क्यूंकि वो सही और गलत को बताते रहते है. और पर्सनल लाइफ में एक जीवन साथी का होना जरुरी है जिससे हम अपने दुःख और दर्द बांट सके और अपने मन को हल्का कर सके.जीवन एक बार मिलता हे इस बजह से सब कुछ करना चाहिए जो की सही हो. लाइफ में एक बार प्यार जरूर करना चाहिए (First time true love real life love story in hindi) छोटी सी लाइफ है खुल के जिओ। और आज की यह स्टोरी भी एक ऐसे लड़के की है जिसे पहली बार स्कूल की  एक लड़की से प्यार (school life real true love story in Hindi) हो जाता है फिर आगे क्या होता है यह जानने के लिए हमारी यह पोस्ट। 
 
 
                      

Real School life True love story in Hindi

आज की कहानी है एक मोहन  नाम के लडके की जो की बहुत ही सरारती था और इंटेलीजेंट भी था।  जिसकी वजह से पूरी  चहल पहल रहती थी।  टीचर भी उस लडके से सहमत रहते थे, क्युकी वो लड़का मजाक मजाक मे बहुत ही गहरी बात कर देता था। और साफ साफ बोलता था, कुछ दिन बाद वो लड़का बहुत ही शांत रहने लगा क्लास में भी शांत बैठने लगा पूरी क्लास भी शांत रहने लगे, टीचर भी सोचने लगे की ये कैसा मजाकिया लड़का था।


 अब ये शांत क्यू रहने लगा इसे क्या हो गया हे स्कूल को जैसे किसी की नजर लग गयी हो सब कुछ सुनसान हो गया है , फिर  टीचर ने वो लड़का ऑफिस में बुलाया और उससे पूछा ये क्या हो गया हे तुम्हे कैसे थे अब कैसे हो गए हो , तुम्हे हो क्या गया है। 
 

 

 फिर वो लड़का बताता है की मुझे  एक लड़की से प्यार हो गया है और वो मुझे छोड़ के चली गयी मुझे धोका दे गयी है, मैं अंदर से पूरी तरह से टूट चूका हूँ , समाज में नहीं आ रहा क्या करू में सब कुछ ख़त्म हो गया  कुछ नहीं बचा।  अब तो मरने के अलाबा कुछ नहीं बचा।  फिर टीचर बोलते हे की तुम ऐसा करो की कल संडे को मॉर्निंग में मेरे घर पे आ सकते हो तो मोहन बोलता है ठीके सर  आ जाऊँगा,
 
 मॉर्निंग में मोहन  सर के पास घर पे पहुंचा, सर ने पूछा क्या लोगे मोहन  ने बोला कुछ नहीं सर ने बोला चलो तुम्हारे लिए नीबू सोडा बना देता हूँ।  और नीबू सोडा बनाते समय सर ने उसमे जान पूछ के नमक ज्यादा कर दिया, सर ने मोहन को सोडा दिया, मोहन  ने सोडा पिया और मुँह को बनाते हुए बोला की सर इसमें तो नमक ज्यादा है। तो सर बोलते है की लाओ इसे फेंक के दूसरा बना देता हूँ , तो मोहन  बोलता हे की सर फेंक क्यों रहे हो इसमें पानी और मिला दो तो सही हो जायेगा ,तो सर बोलते हे की बस यही तो समझने की कोशिश कर रहा था की किसी के जाने से जिंदगी ख़त्म नहीं हो जाती बल्कि और नए लोगो के साथ जिन्दी सुरु करो बिलकुल इस नीबू सोडे की तरह। 

 

 सब कुछ टूटने के बाद भी जो जीये यही तो असली जिंदिगी है। 
 
 
हम आशा करते है की आपको हमारी इस कहानी से कुछ ना कुछ जरूर सीखने को जरूर मिला  होगा 
 
 
दोस्तों आप सभी को हमारी इस पोस्ट को पड़ने के लिए बहुत बहुत धन्यवाद। आपको हमारी यह पोस्ट कैसी लगी हमें कमेन्ट बॉक्समें  कमेंट करके जर्रोर बताये साथ ही साथ अपनी राय भी हमें बताये। 

आप अपनी जीवन कहानी भी हमें  हमारे E-mail पर भेज सकते फिर चाहे वो  love story हो ,या कोई motivational  story  हो ,और हमारी website का हिस्सा बन सकते हैं। 

हमें E-mail करें techoeduftd@gmail.com पर 
 

13 Comments

Leave a Reply